फास्टटैग अकाउंट कैसे खुलवाया और कैसे रिचार्ज करे How Do I Use, Activate, or Recharge a FASTag

फास्टटैग अकाउंट कैसे खुलवाया और कैसे रिचार्ज करे How Do I Use, Activate, or Recharge a FASTag

Fastag एक्टीवेट करने का तरीका :-

Fastag Activation Messages Images 2019


सेल्फ-एक्टीवेशन: FASTag 'बैंक-न्यूट्रल' है, अर्थात, जब आप POS टर्मिनल या ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म से इसे खरीदते हैं तो कोई भी बैंक FASTag को प्री-असाइन नहीं किया जाता है। ऑनलाइन FASTag DIY (Do-It-Yourself) की पर आधारित है, जहां आप 'My FASTag मोबाइल App में वाहन के विवरण दर्ज करके इसे खुद से ही एक्टिवेट कर सकते हैं। एंड्रॉइड स्मार्टफोन उपयोगकर्ता Google Play Store से My FASTag App डाउनलोड कर सकते हैं और iPhone यूजर्स Apple Store से ऐप डाउनलोड कर सकते हैं।

आपको मोबाइल ऐप से मिलेगी सारी जानकारी 

इसके बाद, आपके पास My FASTag मोबाइल ऐप का उपयोग करके अपने किसी मौजूदा बैंक खाते के साथ FASTag को जोड़ने की सुविधा मिलती है। NHAI (नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया) प्रीपेड वॉलेट की सुविधा My FASTag मोबाइल ऐप में भी उपलब्ध है, जहां आप पैसे डाल सकते हैं और अपने टोल शुल्क को सीधे बैंक खाते से कटवाने के बजाय प्रीपेड वॉलेट से भुगतान कर सकते हैं।

हम आपको पहलेही बता चुके है की फास्टैग कैसे काम करता है कहा से खरीदे सकते है ये सब आपको बता चुके है ।



फास्टैग का अकाउंट खुलवाने के लिया डाक्यूमेंट्स क्या देने होंगे 

Fastag account के समय, आपको बैंक की केवाईसी पॉलिसी के अनुसार केवाईसी (नो योर कस्टमर) दस्तावेज जमा करने की आवश्यकता होगी। केवाईसी  के अलावा, आपको FASTag के लिए आवेदन के साथ वाहन का पंजीकरण प्रमाणपत्र (RC) भी बैंक में जमा करना होगा।

How to recharge Fastag Card :कैसे रिचार्ज करें फास्टैग 

यदि FASTag आपके बैंक खाते से पहले से जुड़ा हुआ है, तो प्रीपेड वॉलेट में अलग से पैसे जमा करने की आवश्यकता नहीं है। आपको केवल यह सुनिश्चित करने की जरुरत है कि टाल भुगतान के लिए आपके FASTag जुड़े बैंक खाते में पर्याप्त पैसे हो। हालांकि, अगर आपने FASTag को प्रीपेड वॉलेट (NHAI प्रीपेड वॉलेट) से लिंक किया है, तो इसे विभिन्न माध्यमों जैसे चेक के माध्यम से या UPI, डेबिट कार्ड ,क्रेडिट कार्ड, NEFT,नेट बैंकिंग के जरिए रिचार्ज किया जा सकता है। साथ ही, अलग-अलग माध्यमों से FASTag खाते को रिचार्ज करते समय अतिरिक्त शुल्क लगाया जाएगा।

KYC FASTag खाताधारक के लिए:  FASTag प्रीपेड वॉलेट में 20,000 रुपये से अधिक रुपये नहीं रख सकते हैं। महीने में दोबारा पैसे डालने की सीमा भी 20,000 रुपये रखी गई है।
पूर्ण केवाईसी FASTag खाता धारक के लिए: इस प्रकार के FASTag खाते में उनके FASTag प्री-वॉलेट में 1 लाख रुपये से अधिक रुपये नहीं जमा कर सकते हैं। भारतीय राजमार्ग प्रबंधन कंपनी लिमिटेड (IHMCL) की वेबसाइट के अनुसार, इस खाते में कोई मासिक दोबारा पैसे जमा नहीं कर सकते हैं।
फास्टैग के लिए देने होगा कितना पैसा
प्रमाणित बैंकों प्रत्येक FASTag के लिए अधिकतम 100 रुपये का शुल्क ले सकते हैं, जो कि नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) द्वारा तय किया गया है। हालांकि, प्रभार जारी करने वाले वास्तविक टैग बैंक द्वारा तय किए गए हैं और अलग-अलग बैंकों में इसके चार्ज अलग-अलग हो सकते हैं। 
जाने आपके फायदे की बात 
उदारण के तौर पर एचडीएफसी बैंक 400 रुपये में फास्टैग दे रहा हैं। जिसमें  100 रुपये टैग जारी करने की फीस, 200 रुपये रिफंडेबल सिक्योरिटी डिपोजिट, 100 रुपये वॉलेट बनाते समय वॉलेट में पहली रिचार्ज राशि के तौर पर ले रहे हैं।  आप दो या दो से अधिक वाहनों के साथ एक FASTag का उपयोग नहीं कर सकते, आपको दो वाहनों के लिए दो अलग FASTags खरीदने होंगे।
IHMCL वेबसाइट के अनुसार, यदि आप टोल प्लाजा से 10 किमी की सीमा के भीतर रहते हैं, तो आप अपने FASTag के माध्यम से भुगतान किए जाने वाले टोल पर रियायत का लाभ उठा सकते हैं। ऐसे में, आपको आवश्यक दस्तावेजों को जमा करना होगा। जैसे की अपना निवास स्थान, निकटतम पीओएस स्थान जो यह सुनिश्चित करने के लिए कि आपका आवासीय पता किसी विशेष टोल प्लाजा के 10 किमी के भीतर है। एक बार पता सत्यापित होने के बाद, आप अपने वाहन को सौंपे गए फास्टैग के माध्यम से भुगतान किए गए टोल पर रियायत का लाभ उठा सकते हैं। 

  
Previous Post Next Post